(5 लाख) Pm vishwakarma Yojana में इन लोगों को मिलता है गारंटी लोन

Pm vishwakarma Yojana | Pm vishwakarma Yojana, जो कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 15 अगस्त 2023 को घोषित की गई, कला और पारंपरिक शिल्पकला क्षेत्र के कुशल कलाकारों को बढ़ावा देने का उद्देश्य रखती है। इस पहल से विशेष रूप से पारंपरिक व्यापार के अंतर्गत अपना व्यापार शुरू करना चाहने वाले व्यक्तियों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

इस योजना के तहत, सोनार, लोहार, नाई, और चमड़ागर जैसे कलाकार 5 लाख रुपये तक के ऋण का लाभ उठा सकते हैं जिसमें ब्याज दर को कम किया गया है।

इस वर्ष ‘पीएम विश्वकर्मा योजना’ की शुरुआत करते हुए, प्रधानमंत्री मोदी ने कौशल विकास को बढ़ावा देने के माध्यम से सुलभ ऋण की प्रदानशीलता का आदान-प्रदान किया है। इस योजना में अपना व्यापार शुरू करने में रुचि रखने वाले व्यक्तियों को 3 लाख रुपये तक के ऋण का लाभ उठाने का सुयोग है।

हालांकि, केंद्र सरकार ने केवल 18 पारंपरिक व्यापारों के लाभार्थियों की सीमा तय की है।

Pm vishwakarma Yojana: विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत आने वाले व्यापार

सोनार, लोहार, नाई, और चमड़ागर जैसे पारंपरिक कलाकारों को यह योजना का लाभ मिलेगा। इसके अलावा, इस योजना के तहत 18 पारंपरिक किसान भी इसके लाभार्थी होंगे। यह योजना न केवल व्यक्तियों को अपना व्यापार शुरू करने में समर्थ बनाती है बल्कि यहाँ तक कि यह कलाकारों और शिल्पकारों को भी समर्थ बनाती है।

इस योजना की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि इसमें ऋण प्रदान किया जाता है। इस योजना में दो चरणों में ऋण प्रदान किया जा सकता है। पहला चरण, 1 लाख रुपये का होता है। वहीं, दूसरे चरण में 2 लाख रुपये का ऋण प्रदान किया जाता है। यह ऋण 5 फीसदी ब्याज पर प्रदान किया जाता है। इस योजना में ऋणार्थी को ट्रेनिंग के साथ मास्टर ट्रेनर्स द्वारा भी सहायता प्रदान की जाएगी।

whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

ट्रेनिंग के दौरान लाभार्थी को प्रतिदिन 500 रुपये का स्टाइपेंड भी मिलता है। इसके अलावा, प्रतिभागियों को प्रधानमंत्री विश्वकर्मा प्रमाणपत्र, आईडी कार्ड, और बेसिक और एडवांस ट्रेनिंग की जैसी कौशल से संबंधित ट्रेनिंग भी दी जाती है। टूलकिट के लिए 15,000 रुपये की राशि भी दी जाती है, और डिजिटल लेन-देन के लिए इन्सेंटिव भी प्रदान किया जाता है।

इन कलाकारों को लाभ होगा प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना में शिल्पकलाकार (कारपेंटर), नाव बनाने वाले, लोहार, ताला बनाने वाले, सोनार, मिट्टी के बर्तन बनाने वाले (कुम्हार), मूर्तिकार, राज मिस्त्री, मछली का जाल बनाने वाले, टूल किट निर्माता, पत्थर तोड़ने वाले, मोची/जूता कारीगर, टोकरी/चटाई/झाड़ू बनाने वाले, गुड़िया और अन्य खिलौना निर्माता (पारंपरिक), नाई, माला बनाने वाले, धोबी, दर्जी के कलाकारों को योजना का लाभ मिलेगा।

PM vishwakarma yojana online apply 2023

योग्य आवेदक पीएम विश्वकर्मा पंजीकरण पोर्टल (www.pmvishwakarma.gov.in) पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं या आवेदन के लिए नज़दीकी जनसेवा केंद्र (CSCs) में जा सकते हैं।

PM vishwakarma yojana : पीएम विश्वकर्मा योजना की लोन राशि और भुगतान अवधि

लोन देने के चरणलोन राशिभुगतान अवधि
पहला चरण₹1 लाख तक18 महीने
दूसरा चरण ₹2 लाख तक30 महीने

पीएम विश्वकर्मा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक के अकाउंट का स्टेटमेंट
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट
whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
सभी सरकारी योजना देखेंयहाँ क्लिक करें
वर्तमान भर्तिया देखेंयहाँ क्लिक करें
मुखपृष्ठयहाँ क्लिक करें

पीएम विश्वकर्मा योजना की लोन राशि और भुगतान अवधि क्या है ?

लोन देने के चरण
लोन राशि
भुगतान अवधि
पहला चरण
₹1 लाख तक
18 महीने
दूसरा चरण 
₹2 लाख तक
30 महीने

नमस्कार साथियों मेरा नाम पुनीत है, Facttalk.in वेबसाइट के माध्यम से आप सभी को नवीनतम सरकारी योजनाओ, भर्तियों, रिजल्ट एवं अन्य के बारे में मेरे द्वारा जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है | आशा है आप सभी को हमारे आर्टिकल पसंद आ रहे होंगे, घन्यवाद

1 thought on “(5 लाख) Pm vishwakarma Yojana में इन लोगों को मिलता है गारंटी लोन”

Leave a comment