Business ideas: बिना पानी, लाइट चलने वाला सब्जी कूलर, अब किसान की सब्जिया न ख़राब होगी, और फल भी पकेंगे, 50 हजार कमाई भी

Business ideas: भारत में हर साल 30-40% तक फल और सब्जियां खराब हो जाती हैं। इसकी बड़ी वजह ठंडा रखने की सुविधाओं का न होना है। इससे किसानों का नुकसान होता है और बाज़ार में कीमतें बढ़ जाती हैं। लेकिन अब एक भारतीय स्टार्टअप ने “सब्जी कूलर” नाम का अनोखा उपकरण बनाया है, जो बिना बिजली या तेल के फल और सब्जियों को कई दिनों तक ताज़ा रख सकता है। आइए देखें यह कैसे काम करता है और इसके क्या फायदे हैं!


Business ideas: सब्जी कूलर

सब्जी कूलर हवा से ठंडक पैदा करने की तकनीक पर काम करता है। यह डिब्बे जैसा होता है, जिसकी दीवारें दोहरी हैं और उनके बीच की खाली जगह में पानी भरता है। दीवारों में छोटे-छोटे छेद होते हैं, जिनसे पानी इस खाली जगह में जाता है। डिब्बे के ऊपर और किनारों पर छेद होते हैं, जिनसे पानी डाला जाता है।

इसे इस्तेमाल करने के लिए बस हर रोज़ दीवारों के बीच की खाली जगह में पानी भरना होता है। पानी छेदों से बाहर आता है और हवा में मिलकर ठंडक पैदा करता है। इससे डिब्बे के अंदर का तापमान कम हो जाता है, जिससे फल और सब्जियां ज़्यादा दिनों तक ताज़ा रहती हैं। इस डिब्बे को चलाने के लिए सिर्फ 20 लीटर पानी रोज़ाना ज़रूरी होता है।

फल और सब्जियों को हवादार टोकरियों में रखना होता है, जो डिब्बे के अंदर आती ठंडी हवा से जुड़ी होती हैं। इससे फल-सब्जियों पर ज़्यादा नमी नहीं आती और फफूंद नहीं लगता। पानी डिब्बे के नीचे की जगह में इकट्ठा होता है और फिर से इस्तेमाल किया जाता है। सब्जी कूलर बिना बिजली के ये सब कमाल हवा के साधारण गुणों से करता है!

ये कमाल का डिब्बा पानी से चलता है

  • 150 किलो तक फल-सब्जी एकसाथ रख सकते हैं।
  • फल-सब्जी 2 से 6 दिन ज़्यादा ताज़ा रहते हैं।
  • आम, केला जैसे फलों को धीरे-धीरे पकने देते हैं।
  • कोई दिक्कत नहीं, इसे आसानी से चला और संभाल सकते हैं।
  • किसानों और दुकानदारों का नुकसान कम होता है।
  • रसायनों से ठंडा नहीं करता, फल-सब्जी प्राकृतिक रहते हैं।
  • ट्रक में लगे डिब्बे खेतों से सीधे दुकान तक ताज़गी पहुँचाते हैं।

ये है फायदे

  • अब तक पूरे भारत में 900 से ज़्यादा लोग इसका इस्तेमाल कर चुके हैं।
  • किसानों की कमाई बेकार जाने वाली सब्जी कम होने से 20% तक बढ़ी है।
  • ज़्यादा दिन टिकने से दाम कम हो सकते हैं, ज़्यादा बिकता है।
  • ट्रक वाले डिब्बे शहरों में ताज़गी पहुँचा रहे हैं।
  • परीक्षणों में सब्जी बर्बादी 10% से ज़्यादा कम हुई है।

ये आंकड़े बताते हैं कि ये कमाल का डिब्बा कितना असरदार है। लाखों भारतीयों की थाली तक ताज़गी और प्राकृतिकता पहुँचाने की ताकत रखता है। छोटे किसानों की ज़िंदगी भी संवर सकती है। बिजली न होने वाली दूर-दराज़ की जगहों के लिए भी ये बिल्कुल सही है, कम खर्च और पानी से चलता है!

निष्कर्ष

सब्जी कूलर भारतीय स्टार्टअप का नया आविष्कार है, जो ज़रूरत से ज़्यादा फल-सब्जी फेंकने की समस्या को कम करता है और किसानों की कमाई बढ़ाता है। बिजली न लगना और कम पानी चाहिए, ये इसे टिकाऊ और सबके लिए सुलभ बनाता है।

आसान इस्तेमाल और अच्छे नतीजे देखकर कई लोग इसे अपना चुके हैं। और ज़्यादा इस्तेमाल से भारत की खाद्य आपूर्ति प्रणाली ज़्यादा कुशल और न्यायपूर्ण बन सकती है। जनता के लिए ऐसी ज़रूरी समस्याओं का हल ढूंढने के लिए ऐसे ही नवाचारों की ज़रूरत है!

Disclaimer

यह जो जानकारी हम आप तक पहुंचाते हैं, क्योंकि हमारा उद्देश्य आप तक योजनाओ की जानकारी, उनका स्टेटस एवं जारी लिस्ट को जान सकें एवं चेक कर पाए, लेकिन इस योजना से संबंधित अंतिम फैसला आपका ही अंतिम फैसला होगा, इसके लिए facttalk.in या हमारी कोई भी टीम का मेंबर जिम्मेदार नहीं होगा।

whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
सभी सरकारी योजना देखेंयहाँ क्लिक करें
वर्तमान भर्तिया देखेंयहाँ क्लिक करें
मुखपृष्ठयहाँ क्लिक करें

नमस्कार साथियों मेरा नाम पुनीत है, Facttalk.in वेबसाइट के माध्यम से आप सभी को नवीनतम सरकारी योजनाओ, भर्तियों, रिजल्ट एवं अन्य के बारे में मेरे द्वारा जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है | आशा है आप सभी को हमारे आर्टिकल पसंद आ रहे होंगे, घन्यवाद

Leave a comment