Business ideas: गाँव में फ्री में मिलता है, और शहर में 1 पैकेट 100 रूपए में बिकता है, महीने के 1 मशीन से 20000 कमाए

Business ideas: नमस्ते दोस्तों! क्या आपने कभी सोचा है कि गाय के गोबर से भी आप कुछ नकदी कमा सकते हैं? जी हाँ, यह बिल्कुल सच है! इस खास लेख में, हम बात करेंगे कि कैसे आप अपने घर पर सम्ब्रानी कप बना कर गोबर को मुद्राएं में बदल सकते हैं।

गाय के गोबर का उपयोग न केवल पूजा और धार्मिक कार्यों के लिए होता है, बल्कि आप इसे एक साकारत्मक रूप से अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए भी उपयोग कर सकते हैं। इस लेख में हम बताएंगे कि कैसे आप इस अनूठे विचार को अमल में लाकर गोबर को गोल्ड में बदल सकते हैं। आइए यह सम्ब्रानी कप का नया यात्रा शुरू करते हैं

सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले आर्टिकल्स

🚀 Business ideas: इस मशीन से 1 कंपनी ने बनाये करोड़ो रुपये, खुद का लगाओ छोटा सेटअप कमाओ 2 लाख महीने के
🚀 Business idea: इस मशीन से बनाये खुद का ब्रांड, चाहे बेचे गाव में या शहर में, कमाए 1 लाख महीने के
🚀 Business ideas: ये मशीन बनाएगी मालामाल, मशीन 1 कमाई 2 तरह से, 1 लाख तक कमाए
🚀 Business ideas: गावं हो या शहर, जबरदस्त डिमांड के साथ कमाओ 60000 महीने का
🚀 Business ideas: हर महीने चलेगा ये बिज़नस, ऐसा सामान जो बिकता है हर जगह, महीने के ₹50000 आराम से कमाओ
🚀 Business idea: ये बिज़नस का भविष्य शानदार है, आज 180 में बनता है और 250 में बिकता है
🚀 Business ideas: इस काम को सभी हलके में लेते है, पर समझदार 80000 रुपये कमा लेता है
🚀 Business ideas: चुपचाप चला रहे छोटी सी जगह में बिज़नस, रोजाना कमा रहे है 3000 रुपये, अभी जाने
🚀 Business ideas: 4 तरह की मशीनो से कमाए महीने का 1 लाख आराम से, फिर मत कहना


Business ideas: सम्ब्रानी कप

सम्ब्रानी कप गोबर से बने छोटे दीपक होते हैं, जिनमें सम्ब्रानी जलाई जाती है। सम्ब्रानी, जिसे मंदिर की धूप भी कहा जाता है, हिंदू धर्म के अनुष्ठानों और समारोहों में शुभ सामग्री के रूप में इस्तेमाल की जाती है।

गोबर को इकट्ठा किया जाता है, घास के साथ मिलाया जाता है और कप के आकार में बनाया जाता है। इन्हें सुखाया जाता है और फिर सम्ब्रानी के साथ जलाया जाता है, जिससे सुगंधित धुआं निकलता है। सम्ब्रानी कप का उपयोग पूजा अनुष्ठान, हवन और सुगंध चिकित्सा के लिए किया जाता है।

सम्ब्रानी कप से ऐसे कमाए

घर पर सम्ब्रानी कप बनाना अतिरिक्त आय अर्जित करने का एक शानदार तरीका हो सकता है। आइए इसके कुछ प्रमुख लाभों को देखें:

  • कम निवेश: इलेक्ट्रिक मशीन के लिए लगभग ₹40,000 और मैनुअल मशीन के लिए लगभग ₹20,000 की आवश्यकता होती है। आपके पास गायें होने पर कच्चा माल (गोबर) मुफ्त में उपलब्ध है।
  • अच्छी मांग: सम्ब्रानी कप की काफी मांग है क्योंकि इनका उपयोग हिंदू धार्मिक समारोहों और अनुष्ठानों में नियमित रूप से किया जाता है।
  • पर्यावरण अनुकूल उत्पाद: गोबर से बने सम्ब्रानी कप प्राकृतिक और पर्यावरण के अनुकूल उत्पाद हैं।
  • सीमित श्रम: मशीनें उत्पादन प्रक्रिया का अधिकांश भाग स्वचालित करती हैं। आपको केवल 1-2 घंटे प्रतिदिन ऑपरेशन के लिए चाहिए।
  • अतिरिक्त आय: आप केवल 1-2 घंटे के दैनिक कार्य से ₹15,000-20,000 प्रति माह कमा सकते हैं। आपके पास जितनी अधिक मशीनें होंगी, उतना अधिक पैसा आप कमा सकते हैं।

मुझे उम्मीद है कि इस जानकारी से आपको गोबर से बने सम्ब्रानी कप के व्यवसाय की संभावना के बारे में समझने में मदद मिली होगी। यह कम निवेश के साथ अच्छी आय अर्जित करने का एक अनोखा अवसर है।

ऐसे बनाते है सम्ब्रानी कप

  1. गोबर का चयन: सूखे हुए गोबर का इस्तेमाल करें। हरे या गीले गोबर से बने कप टूट सकते हैं।
  2. गोबर का मिश्रण: सूखे हुए गोबर को घास या फसल अवशेष के साथ अच्छी तरह मिलाएं। मिश्रण न ज्यादा सूखा और न ज्यादा गीला होना चाहिए।
  3. मशीन का उपयोग: सम्ब्रानी कप बनाने की मशीनें बाजार में हाथ से चलने वाले और बिजली से चलने वाले दोनों रूपों में उपलब्ध हैं। मिश्रण को मशीन में डालें।
  4. कप का आकार देना: मशीन मिश्रण को छोटे-छोटे कप के आकार में ढाल देगी और अतिरिक्त सामग्री को हटा देगी।
  5. सुखाना: ढाले गए कपों को 2-3 दिनों के लिए पूरी तरह सूखने के लिए धूप में रखें।
  6. भंडारण: सूखे हुए कपों को ढेर में लगाकर किसी सूखी जगह में रख दें। अब ये इस्तेमाल के लिए तैयार हैं!

सम्ब्रानी का उपयोग

कप के अंदर सम्ब्रानी का एक टुकड़ा रखें और उसे जलाएं। सुगंधित धुआं पूजा, हवन या सुगंध चिकित्सा के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

इतनी होती है आय

  • हाथ से चलने वाली मशीन से आप प्रतिदिन 50-100 कप बना सकते हैं। अगर आप ₹2 प्रति कप बेचते हैं, तो रोजाना ₹100-200 कमा सकते हैं।
  • बिजली से चलने वाली मशीन से आप 300 तक कप बना सकते हैं, जिससे ₹600 रोजाना कमाए जा सकते हैं।
  • इस तरह, आप घर पर ही अंशकालिक रूप से हर महीने ₹15,000-30,000 आसानी से कमा सकते हैं।
  • अधिक मशीनें लगाकर और श्रमिक रखकर आप उत्पादन बढ़ा सकते हैं और व्यवसाय का विस्तार कर सकते हैं।

आखिर ये बिज़नस सफल कैसे है?

  • कम निवेश: मशीन खरीदने का खर्च ₹20,000 से ₹40,000 के बीच है। गोबर मुफ्त में उपलब्ध है।
  • उच्च लाभ: बिक्री पर अच्छा लाभ मिलता है।
  • पर्यावरण अनुकूल: गोबर का उपयोग एक प्राकृतिक और पर्यावरण के अनुकूल उत्पाद बनाने में होता है।
  • आध्यात्मिक महत्व: सम्ब्रानी का उपयोग पूजा-पाठ में होता है, इसलिए इस व्यवसाय का धार्मिक महत्व भी है।
  • बाजार की मांग: सम्ब्रानी कप की पूरे भारत में अच्छी मांग है।
  • कंपनी का समर्थन: मशीनें बेचने वाली कंपनी उत्पाद का पुनर्खरीद भी करती है, इसलिए आपको बिक्री की चिंता नहीं करनी पड़ेगी।

निष्कर्ष

सम्ब्रानी कप बनाने का व्यवसाय कम जोखिम और उच्च लाभ वाला एक आकर्षक विकल्प है। यह आपको घर पर ही आराम से काम करते हुए अच्छी आय अर्जित करने का अवसर प्रदान करता है। तो देर न करें, आज ही शुरुआत करें और लाभ कमाएं!

Disclaimer

यह जो जानकारी हम आप तक पहुंचाते हैं, क्योंकि हमारा उद्देश्य आप तक योजनाओ की जानकारी, उनका स्टेटस एवं जारी लिस्ट को जान सकें एवं चेक कर पाए, लेकिन इस योजना से संबंधित अंतिम फैसला आपका ही अंतिम फैसला होगा, इसके लिए facttalk.in या हमारी कोई भी टीम का मेंबर जिम्मेदार नहीं होगा।

whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
सभी सरकारी योजना देखेंयहाँ क्लिक करें
वर्तमान भर्तिया देखेंयहाँ क्लिक करें
मुखपृष्ठयहाँ क्लिक करें

नमस्कार साथियों मेरा नाम पुनीत है, Facttalk.in वेबसाइट के माध्यम से आप सभी को नवीनतम सरकारी योजनाओ, भर्तियों, रिजल्ट एवं अन्य के बारे में मेरे द्वारा जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है | आशा है आप सभी को हमारे आर्टिकल पसंद आ रहे होंगे, घन्यवाद

2 thoughts on “Business ideas: गाँव में फ्री में मिलता है, और शहर में 1 पैकेट 100 रूपए में बिकता है, महीने के 1 मशीन से 20000 कमाए”

Leave a comment