Business idea: लोग चुपचाप मशीन लेकर खुदका काम करते है, इन मशीन के बारे में कोई नहीं बताता, कमाते है 3 लाख तक

Business idea: पीढ़ियों से भारत में अचार खाने का एक खास शौक रहा है। ये स्वादिष्ट मसाला पंजाब से तमिलनाडु तक, हर थाली में अपनी जगह बनाता है। विदेशों में भी इसका स्वाद चखा जा रहा है। पर पारंपरिक रूप से, ये छोटे-छोटे बैचों में घर ही में बनाए जाते हैं। तो बड़े व्यापार के लिए उत्पादन कैसे बढ़ाया जाए? इसका सीधा जवाब है – मशीनों का इस्तेमाल!

इस लेख में, हम बड़ी मात्रा में अचार बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले उपकरणों के बारे में जानेंगे। ये मशीनें घरेलू और निर्यात बाजारों की बढ़ती मांग को पूरा करने में मदद करेंगी।

सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले आर्टिकल्स

🚀 Business ideas: इस मशीन से 1 कंपनी ने बनाये करोड़ो रुपये, खुद का लगाओ छोटा सेटअप कमाओ 2 लाख महीने के
🚀 Business ideas: ये मशीन बनाएगी मालामाल, मशीन 1 कमाई 2 तरह से, 1 लाख तक कमाए
🚀 Business ideas: गावं हो या शहर, जबरदस्त डिमांड के साथ कमाओ 60000 महीने का
🚀 Business ideas: हर महीने चलेगा ये बिज़नस, ऐसा सामान जो बिकता है हर जगह, महीने के ₹50000 आराम से कमाओ
🚀 Business idea: ये बिज़नस का भविष्य शानदार है, आज 180 में बनता है और 250 में बिकता है
🚀 Business ideas: इस काम को सभी हलके में लेते है, पर समझदार 80000 रुपये कमा लेता है
🚀 Business ideas: चुपचाप चला रहे छोटी सी जगह में बिज़नस, रोजाना कमा रहे है 3000 रुपये, अभी जाने
🚀 Business ideas: 4 तरह की मशीनो से कमाए महीने का 1 लाख आराम से, फिर मत कहना


Business idea: Organic Pickle

बड़ी मात्रा में सब्जियों के साथ काम करते समय पहला काम उन्हें अच्छी तरह से धोना होता है। सब्जी धोने की मशीन स्वचालित रूप से फल और सब्जियों से गंदगी, धूल और मिट्टी हटा देती है। मशीन के अंदर नरम और सख्त ब्रश लगे होते हैं, जो तेजी गति से घूमते हुए सफाई करते हैं।

आम या नींबू का अचार बनाने के लिए, मशीन आम छील कर उसके बीज भी निकाल सकती है। 300-500 किलो प्रति घंटे की क्षमता के साथ, यह मशीन काटने और मिश्रण से पहले ताजगी और स्वच्छता सुनिश्चित करती है।

whatsapp group

ऐसे होती है कटाई

एक समान आकार के टुकड़े करने के लिए स्वचालित काटने की मशीनें काफ़ी मददगार हैं। ये मशीनें 200 किलो प्रति घंटे तक सब्जियों को काट सकती हैं। गाजर, मिर्च, आम – हर तरह की सब्जी इनसे कटी जा सकती है। ब्लेड का आकार और गति को एडजस्ट करके, आप टुकड़ों का आकार 5 मिमी के छोटे टुकड़ों से लेकर बड़े टुकड़ों तक नियंत्रित कर सकते हैं।

इससे हाथ से काटने की मेहनत कम हो जाती है और हर बार एक जैसा आकार मिलता है। कुछ मशीनों में काटने के अलावा छीलने, कद्दूकस करने और कतरने के लिए भी अटैचमेंट दिए जाते हैं।

अपनी रेसिपी के साथ बनाये

कटने के बाद, सब्जियों को स्वाद के लिए मसालों के साथ मिलाया जाता है। बड़े बर्तनों में हाथ से मिलाने के बजाय, अचार मिश्रण और भरने की मशीन यह काम स्वचालित रूप से करती है। 50W का मोटर एक बड़े चम्मच जैसा पटरा घुमाता है, जो 30 लीटर तक के बैचों में सामग्री को अच्छी तरह से मिलाता है।

यह मशीन अगले चरण में नोजल के माध्यम से भरे हुए जार या पाउच को भी भर सकती है। मात्रा को 5ml से 1000ml तक नियंत्रित किया जा सकता है। इससे सभी उत्पादन बैचों में मिश्रण की एकरूपता बनी रहती है।

ऐसे करे पैकिंग

खुदरा बिक्री के लिए, मिश्रित अचार को जार, बोतल और पाउच में पैक किया जाना चाहिए। एकॉर्डियन पाउच पैकिंग मशीन इसके लिए उपयुक्त है। यह अपने एडजस्टेबल नोजल के साथ प्रति मिनट 16 पाउच भर कर सील कर सकती है। स्टेनलेस स्टील का शरीर इसे दिन-रात काम करने में सक्षम बनाता है।

भरने के बाद, एक साइड बैंड सीलर पाउच को सील कर देता है, जो ताजगी बरकरार रखता है। छोटी मात्रा वाले पाउच भरने के लिए, ऑटोमेटिक पाउच पैकर रील फीड सामग्री का उपयोग करके 1 रुपये के अचार पाउच बना सकता है। यह दोनों सिरों को सील करता है और पाउच को निरंतर आगे बढ़ता रहता है

सही मशीनों का चुनाव करे

धोने, काटने, मिलाने, पैक करने और ट्रैक करने के लिए अलग-अलग मशीनें इस्तेमाल करके, अचार बनाने का पूरा काम आसान और तेज़ बनाया जा सकता है। इससे समय और मेहनत दोनों बचेंगी, और खाने की सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जा सकेगा।

ये मशीनें छोटे कारोबारों और बड़ी फैक्ट्रियों दोनों के लिए अलग-अलग आकार और क्षमता में उपलब्ध हैं। शुरुआत में थोड़ा ज़्यादा खर्च ज़रूर लगेगा, लेकिन मशीनों की ज़िंदगी लम्बी होती है और जल्दी ही ख़ुद का ख़र्च वसूल कर लेती हैं। इसका नतीजा होगा ज्यादा उत्पादन और बाज़ार तक जल्दी पहुंचना।

निष्कर्ष

अचार का प्रेम हिंदुस्तान में कम होने का नाम नहीं ले रहा है। बल्कि, तैयार खाने की बढ़ती लोकप्रियता के साथ इसकी मांग और बढ़ती जा रही है। उत्पादन को स्वचालित करके, अचार कंपनियां इस बाज़ार का बड़ा हिस्सा हासिल कर सकती हैं और अपना कारोबार बढ़ा सकती हैं।

सही मशीनों और ज़बरदस्त ब्रांडिंग के साथ, अचार के कारोबार में मुनाफा कमाना ही है। तकनीक जानने वाले नए उद्यमियों के लिए ये बाज़ार खुला हुआ है। अगर आपके अंदर उद्यमी का जोश है, तो क्यों न अगला कदम अचार के कारोबार की ओर बढ़ाया जाए? यहाँ बताई गई मशीनें आपको घर के रसोइए से राष्ट्रीय मसाले के बादशाह बनने का रास्ता दिखाएंगी।

Disclaimer

यह जो जानकारी हम आप तक पहुंचाते हैं, क्योंकि हमारा उद्देश्य आप तक योजनाओ की जानकारी, उनका स्टेटस एवं जारी लिस्ट को जान सकें एवं चेक कर पाए, लेकिन इस योजना से संबंधित अंतिम फैसला आपका ही अंतिम फैसला होगा, इसके लिए facttalk.in या हमारी कोई भी टीम का मेंबर जिम्मेदार नहीं होगा।

whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
सभी सरकारी योजना देखेंयहाँ क्लिक करें
वर्तमान भर्तिया देखेंयहाँ क्लिक करें
मुखपृष्ठयहाँ क्लिक करें

नमस्कार साथियों मेरा नाम पुनीत है, Facttalk.in वेबसाइट के माध्यम से आप सभी को नवीनतम सरकारी योजनाओ, भर्तियों, रिजल्ट एवं अन्य के बारे में मेरे द्वारा जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है | आशा है आप सभी को हमारे आर्टिकल पसंद आ रहे होंगे, घन्यवाद

5 thoughts on “Business idea: लोग चुपचाप मशीन लेकर खुदका काम करते है, इन मशीन के बारे में कोई नहीं बताता, कमाते है 3 लाख तक”

Leave a comment