Business idea: इस मशीन से बनाये खुद का ब्रांड, चाहे बेचे गाव में या शहर में, कमाए 1 लाख महीने के

Business idea: भारत में, ग्रामीण क्षेत्रों में आय के स्तर को बढ़ाना आजीविका में सुधार लाने का प्रमुख आधार है। छोटे पैमाने के उद्योग जो कम लागत वाले और स्थान कुशल हैं, वे अच्छे आर्थिक अवसर पैदा कर सकते हैं, खासकर महिलाओं के लिए। खाद्य प्रसंस्करण ऐसा ही एक उद्योग है जिसमें अपार संभावनाएं हैं। अनाज और मसालों की पिसाई के लिए आधुनिक मशीनें अब छोटे ग्रामीण उद्यमों को भी सफल होने का मौका देती हैं।


Business idea: Making Masala Brand

  • 5HP मोटर के साथ इलेक्ट्रिक आटा चक्की और मसाला ग्राइंडर ग्रामीण व्यवसायों के लिए आदर्श हैं। वे प्रति घंटे 50-70 किलो अनाज या मसालों को पीस सकते हैं। चक्रवाती शीतलन प्रणाली सुनिश्चित करती है कि अंतिम उत्पाद ठंडा रहे। ये मशीनें हर तरह के अनाज – गेहूं, बाजरा, मक्का आदि को संभाल सकती हैं।
  • महीन और चिकना आटा पैकेजिंग और बिक्री के लिए तैयार है। हल्दी जैसे मसालों के लिए, एक बार पीसने से उच्च गुणवत्ता वाला पाउडर मिलता है, जिससे दोहरी पीसने की आवश्यकता समाप्त हो जाती है।

बस इतनी जगह चाहिए और रख रखाव आसान

ये खाद्य प्रोसेसर कम से कम रखरखाव लागत के साथ संचालित करना आसान है। उन्हें केवल एक फेज बिजली कनेक्शन की आवश्यकता होती है। धूल प्रदूषण को कम करने के लिए पूरी प्रणाली संलग्न है। ऊर्ध्वाधर हथौड़ा मिल डिजाइन के कारण तेल रिसाव से भी बचा जाता है। वे कॉम्पैक्ट हैं और उन्हें लगभग 5 फीट x 4 फीट के छोटे स्थान की आवश्यकता होती है।

इतनी होती है कमाई

एक आटा चक्की मशीन 10 घंटे के कार्य दिवस में 500 किलो तक आटा बनाती है। 2 रुपये/किलो की पिसाई लागत लेते हुए, यह 1000 रुपये की दैनिक कमाई में तब्दील होती है। बिजली का खर्च करीब 150-200 रुपये होगा। मसालों के लिए, लगभग 70 किलो एक घंटे में पीसा जा सकता है।

8-10 घंटे काम करने से 8000-10000 रुपये कमाए जा सकते हैं। इसलिए ये सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाइयां आकर्षक व्यवसाय बन सकते हैं। महिलाएं भी इन परिचालनों को आसानी से प्रबंधित कर सकती हैं।

ऐसे बनाये ब्रांड

एक बार मांग बढ़ने पर, उद्यमी अपने ब्रांडेड पैकेज्ड आटा, मसाले और मसाले लॉन्च कर सकते हैं। बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए 10HP और उससे अधिक के ग्राइंडर की आवश्यकता होगी। संचालन और रखरखाव लागत में वृद्धि होगी। लेकिन लाभदायक क्षमता भी काफी बढ़ जाती है। ब्रांडेड उत्पादों को वस्तुओं की बिक्री की तुलना में अधिक मार्जिन मिलता है।

सरकारी सहायता और मशीनरी सहयोग

ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे व्यवसाय स्थापित करने के लिए सरकार विभिन्न योजनाएं चलाती है. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 10 लाख रुपये तक का सब्सिडी लोन लिया जा सकता है. खाद्य प्रसंस्करण पर प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए अनुदान दिए जाते हैं. मशीनरी खरीद पर भी सब्सिडी प्रदान की जाती है. इच्छुक उद्यमियों को वर्तमान में उपलब्ध योजनाओं के लिए आधिकारिक राज्य और केंद्र सरकार के पोर्टलों की जांच करनी चाहिए.

डीलरशिप के अवसर

कृषि व्यापार बेचने वाले मौजूदा खुदरा स्टोर खाद्य प्रसंस्करण मशीनों के लिए डीलर या अधिकृत वितरक बन सकते हैं. इससे अतिरिक्त बुनियादी ढांचे की आवश्यकता के बिना एक और आय श्रोत जुड़ जाता है. जैसे-जैसे बिक्री बढ़ती है, उच्च कमीशन का लाभ मिलता है. लेकिन जोखिम कम हो जाता है क्योंकि कोई प्रारंभिक निवेश की आवश्यकता नहीं होती है. डीलरों को सिर्फ कुछ प्रचार सामग्री और नमूना उत्पादों का स्टॉक रखने की जरूरत होती है.

खाद्य प्रसंस्करण उपकरण ग्रामीण आबादी के लिए बहुआयामी सामाजिक-आर्थिक लाभ दे सकते हैं. स्थानीय उद्यम बनाना रोजगार पैदा करता है, आय बढ़ाता है और शहरी क्षेत्रों में पलायन को भी रोकता है. सहायक सरकारी प्रोत्साहन और सही मशीनरी के साथ, छोटे कृषि-प्रसंस्करण उद्यम उद्यमी ग्रामीणों को सशक्त बना सकते हैं. मामूली पूंजी के साथ भी, ये सूक्ष्म-फैक्ट्रियां व्यवहार्य और लाभदायक हैं, ग्राम स्वावलंबन के सपने को पूरा करती हैं.

मैं आशा करता हूं कि यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई है! क्या आपके पास कोई अन्य प्रश्न हैं?

Disclaimer

यह जो जानकारी हम आप तक पहुंचाते हैं, क्योंकि हमारा उद्देश्य आप तक योजनाओ की जानकारी, उनका स्टेटस एवं जारी लिस्ट को जान सकें एवं चेक कर पाए, लेकिन इस योजना से संबंधित अंतिम फैसला आपका ही अंतिम फैसला होगा, इसके लिए facttalk.in या हमारी कोई भी टीम का मेंबर जिम्मेदार नहीं होगा।

whatsapp group
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
सभी सरकारी योजना देखेंयहाँ क्लिक करें
वर्तमान भर्तिया देखेंयहाँ क्लिक करें
मुखपृष्ठयहाँ क्लिक करें

नमस्कार साथियों मेरा नाम पुनीत है, Facttalk.in वेबसाइट के माध्यम से आप सभी को नवीनतम सरकारी योजनाओ, भर्तियों, रिजल्ट एवं अन्य के बारे में मेरे द्वारा जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है | आशा है आप सभी को हमारे आर्टिकल पसंद आ रहे होंगे, घन्यवाद

Leave a comment